90s Songs Alka Yagnik Bollywood Song Lyrics Kumar Sanu Udit Narayan

Dil Ne Yeh Kaha Hai Dil Se Lyrics – दिल ने ये कहा है दिल से

Dil Ne Yeh Kaha Hai Dil Se Lyrics – दिल ने ये कहा है दिल से -: Dil Ne Yeh Kaha Hai Dil Se Lyrics from Dhadkan. sung by Udit Narayan And Alka Yagnik and composed by Nadeem Saifi, Shravan Rathod.

Song : Dil Ne Yeh Kaha Hai Dil Se
Album : Dhadkan
Singer : Udit Narayan, Alka Yagnik, Kumar Sanu
Music : Nadeem Saifi, Shravan Rathod
Lyrics : Sameer_Anjaan

Dil Ne Yeh Kaha Hai Dil Se Lyrics In English

Dil ne ye kaha hai dil se Mohabbat ho gayi hai tumse
Meri jaan mere dilbar
Mera aitbar karlo
Jitna bekarar hu mai
Khudko bekarar karlo
Meri dhadkano ko samjo
Tumbi mujse pyar karlo
Lalala lalalala lalalala lalalala
Dil ne ye kaha hai dil se

Mohabbat ho gayi hai tumse
Meri jaan mere dilbar
Mera aitbaar karlo
Jitna bekarar hai dil
Khudko bekarar karlo
Meri dhadkano ko samjo
Tumbi mujse pyar karlo

Mere hontho pe tere hontho ki Pyas aisi jagi Mann me mere bhi tann me Tere bhi aag jalne lagi
Ho sard mausam hai

Garam aalam hai
Dil me tufan hai
Bekarari hai
Kya humari hai kitne arman hai
Meri jaan keh rahi hai
Mujpe jaan nisar karlo
Jitna bekarar ho mai
Khudko bekarar karlo
Meri dhakano ko samjo
Tumbi mujse pyar karlo

Dil ne ye kaha hai dil se
Mohabbat ho gayi hai tumsee
Ho raat adhi hai baat adhi hai Behke behke kadam ek dujhe ko Leke baho me aa lipat jaye hum
Ho kaisi masti hai

Kitni madhoshi hosh khone laga
Tune dekha jo aisi nazro se kuch to hone laga
Ab to hai yehi tamana chahat beshumar karlo
Jitna bekarar hai dil khudko bekarar karlo
Meri dhadkano ko samjo
Tumbi mujse pyar karlo

Dil Ne Yeh Kaha Hai Dil Se Lyrics In Hindi

दिल ने ये कहा है दिल से मोहब्बत हो गई है तुमसे
मेरी जान मेरे दिलबर मेरा ऐतबार कर लो
जितना बेकरार हूं मैं खुद को बेकरार कर लो
मेरी धड़कनों को समझो तुम भी मुझसे प्यार कर लो
ला ला ला
दिल ने ये कहा …

तुम जो कह दो तो चाँद तारों को तोड़ लाऊँगा मैं
इन हवाओं को इन घटाओं को मोड़ लाऊँगा मैं
कैसा मंज़र है मेरी आँखों में कैसा एहसास है
पास दरिया है दूर सहरा है फिर भी क्यूँ प्यास है
कदमों में जहाँ ये रख दूँ मुझसे आँखें चार कर लो
जितना बेकरार हूं मैं …

मेरी यादों में मेरे ख्वाबों में रोज़ आते हो तुम
इस तरह भला मेरी जां मुझे क्यूँ सताते हो तुम
आ हा हा हा हा हा
तेरी बाहों से तेरी राहों से यूँ न जाऊँगा मैं
ये इरादा है मेरा वादा है लौट आऊँगा मैं
दुनिया से तुम्हें चुरा लूँ थोड़ा इंतज़ार कर लो
जितना बेकरार हूं मैं …

कैसे आँखें चार कर लूँ कैसे ऐतबार कर लूँ
अपनी धड़कनों को कैसे इतना बेकरार कर लूँ
कैसे तुझको दिल मैं दे दूं कैसे तुझको प्यार कर लूँ
दिल ने ये कहा है …

दिल ने ये कहा है दिल से मोहब्बत हो गई है तुमसे
मेरी जान मेरे दिलबर मेरा ऐतबार कर लो
जितना बेकरार हूं मैं खुद को बेकरार कर लो
मेरी धड़कनों को समझो तुम भी मुझसे प्यार कर लो
ला ला ला
दिल ने ये कहा …

मेरे होंठों पे तेरे होंठों की प्यास ऐसी जगी
मन में मेरे भी तन में तेरे भी आग जलने लगी
हो सर्द मौसम है गर्म आलम है दिल में तूफ़ान है
बेकरारी है क्या खुमारी है कितने अरमान हैं
मेरी जान कह रही है मुझपे जां निसार कर लो
जितना बेकरार हूं मैं …

ओ रात आधी है बात आधी है बहके बहके कदम
एक दूजे को लेके बाहों में आ लिपट जाएं हम
ओ कैसी मस्ती है कितनी मदहोशी होश खोने लगा ओ
तूने देखा जो ऐसी नज़रों से कुछ तो होने लगा
अब तो है यही तमन्ना चाहत बेशुमार कर लो
जितना बेकरार हूं मैं.

See Also -:

Add Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: